ये है राम-नामी जनजाति

 Ram-Nami Tribeये है राम-नामी जनजाति…..जंगल में रहने वाले ये लोग अपने लगभग पूरे शरीर पर भगवान राम का नाम गुदवाते हैं, वो भी स्थायी रूप से।

इस समुदाय को किसी पुराने समय में श्री राम में मन्दिर में नहीं जाने दिया गया था। तब इनके पूर्वजों ने कहा था कि राम को हमसे छीनकर बताओ तो जाने….राम को हमसे कोई अलग नहीं कर सकता।

इस तरह से जनजाति में पूरे शरीर पर राम का नाम गुदवाने की परंपरा चल बसी। आजतक ये जनजाति किसी दूसरे मनुष्य निर्मित तथाकथित धर्म में परिवर्तित न हो सकी।

ये लोग कट्टर रामपंथी होते हैं। अब इस जनजाति के लोग मन्दिर भी जाते हैं । अब परिस्थितियां बदल गयी मगर राम नाम लिखने की परंपरा आज तक न बदली।
छत्तीसगढ़ में रहने वाले इस समुदाय को ‘रामनामी’ समाज कहा जाता है.।

इस राम नामी जनजाति को समस्त हिंदुओं की तरफ से कोटि कोटि नमन।

।।जय जय श्री राधे।।

Share Your Thoughts