Author: manoj

आत्मनिर्भर का मतलब !!

Forwarded by our Whatsapp member Sh. Rambabu Sharma आत्मनिर्भर का मतलब यह नहीँ है की आई फोन की जगह लावा का फोन इस्तेमाल करना शुरु कर देना है। इसका मतलब है आई फोन जैसे फोन को निर्माण करने की क्षमता विकसित करनी है। आत्मनिर्भर का मतलब यह नहीं है की तुरन्त BMW को फेककर मारुती ….  Read More

Urgent Blood requirement for Children

दिल्ली में थैलेसीमिक बच्चों के लिये ब्लड की बहुत दिक्कत हो रही है। इन बच्चों की ज़िन्दगी आप और हम जैसे लोगों द्वारा डोनेट किये हुवे ब्लड से ही चलती है। स्पष्ट शब्दों में कहूँ, तो आपके द्वारा डोनेट क्या एक यूनिट ब्लड एक थैलेसीमिया ग्रस्त बच्चे को लगभग 15-21 दिन की ज़िन्दगी और दे ….  Read More

Local Vs. Imported

Note: The list shared by our member on Whatsapp group… हमारे कई मित्रो के अनुरोध पर आज हमने ये लिस्ट तैयार की है! इस लिस्ट में चाइना और सभी विदेशी कम्पनियों के नाम हैं! भूल कर भी अब इन्हें न अपनाये! और इनसे परहेज करें! स्वदेशी अपनाये और देश को मजबूत बनाएं! स्वदेशी और विदेशी ….  Read More

Blood Donation Camp

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ शाहदरा जिला 💐”रक्तदान शिविर”💐 वर्तमान में कोविद-19 की महामारी के कारण पूरा देश lockdown की स्थिति में है, जिसके चलते अधिकांश गतिविधियाँ स्थगित कर दी गईं हैं। परिणाम स्वरूप अस्पतालों में रक्त की उपलब्धता में कमी हो गयी है। ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’ देश में आपदा की स्थिति में हमेशा ही समाज की ….  Read More

Don’t use Rest in Peace

“RIP” का मतलब ? ? .हमनें अक्सर देखा है कि किसी के भी मृत्यु की खबर जैसे ही आती है तो अधिकतर लोग  RIP लिखकर भेजने लगते हैं। आजकल सोशल मीडिया पर RIP का प्रयोग तो अच्छे अच्छे पढ़े लिखे लोग भी बिना इसके सही अर्थ को जाने बिना सही भाव को समझे बिना करते ….  Read More

Badrinath Dham Doors Opened

15 मई को खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट, मुख्य पुजारी समेत 27 लोग मौजूद रहेंगे देहरादून। बद्रीनाथ धाम के कपाट 15 मई को सुबह 4.30 बजे खुलेंगे। इस दौरान मुख्य पुजारी (रावल) समेत सिर्फ 27 लोग मौजूद रहेंगे। इनमें पुजारी और देवस्थान बोर्ड के अधिकारी शामिल होंगे। श्रद्दालुओं को मौजूद रहने की इजाजत नहीं होगी। जोशीमठ ….  Read More

Support Citizenship Amendment Act

नई दिल्ली, एजेंसी। CAA (नागरिकता संशोधन कानून, 2019) को भारतीय संसद में 11 दिसंबर, 2019 को पारित किया गया